रविवार, दिसंबर 9

रीति आश्रम के बच्चों ने जाना कि जन्मदिन क्या होता है!


सहारनपुर -  आज का दिन रीति आश्रम, जैन कालिज रोड, सहारनपुर के 38-40 बच्चों के लिये अथाह खुशियां लेकर आया।   आरोन एजुकेशन वेल्फेयर सोसायटी ने आज इन बच्चों का सामूहिक जन्म दिन मनाने का जो निश्चय कर लिया था।   जन्मदिन का अर्थ ही है - खेल - कूद, नाचना - गाना, केक और बढ़िया बढ़िया खाना खाना !   और हां,  जन्मदिन पर उपहार भी तो मिलते हैं ! 

तो बस, आज सुबह छः बजे ही AEWS  टीम के कई सदस्य रीति आश्रम के प्रांगण में टैंट और कुर्सियां लगवाने के लिये पहुंच चुके थे।   आयोजन बड़ा था सो उसकी तैयारियां भी कई दिन पहले से चल रही थीं।  बच्चों की इच्छा थी कि वह एक समूह नृत्य प्रस्तुति भी दें।   उसके लिये AEWS की सदस्य और प्रख्यात कोरियोग्राफर अपर्णा नेगी ने कई बार में और कई - कई घंटों तक रीति आश्रम में जाकर बच्चों को रिहर्सल कराई।   दिशा शुक्ला, राहुल गुनदेव, जौनी वर्मा, अधिराज गुलाटी और खेमचन्द सैनी  संस्था की अध्यक्ष रश्मि टेरेंस के निर्देशन में अन्य सभी तैयारियों में जुटे रहे।   बच्चों के लिये केक, खाने और गिफ्ट का भी तो इंतज़ाम करना था।

आज सुबह 9 बजे तक सब तैयारियां पूर्ण हो चुकी थीं।  पूरी टीम लाल जर्सी और काली जींस पहने अपने अपने काम को अंजाम देने के लिये सन्नद्ध थी।  पर जिन बच्चों का जन्मदिन था, वही हैंड पंप के नीचे नहाने - धोने में मशगूल थे।  मेहमान भी आने शुरु हो गये थे। 
 बच्चों को कहा गया कि पन्द्रह मिनट के भीतर सज - संवर कर पंडाल में आ जायें।  पर AEWS टीम तब तक क्या करे?   जब कुछ और काम न दिखाई दे रहा हो तो डांस से अच्छा और क्या काम हो सकता है?   सो, दिशा, अपर्णा, रश्मि, गीता सिंह, ज्योति, गगनदीप आदि कमर कस कर डांस फ्लोर पर  आ गये और जन्मदिन का माहौल बनने लगा।

और लीजिये,  नीना धींगड़ा और तनवीर की कार ने परिसर में प्रवेश किया  जिसमें बच्चों के लिये  दो विशाल केक भी आ रहे थे।   और ये आ गये हमारे विशिष्ट अतिथि - योगेश दहिया, सईमा मसूद, संदीप शर्मा, हैरी, पूनम बाली, संगीता शर्मा, स्नेही शर्मा आदि !   तभी सामने से पंक्तिबद्ध होकर यूनिफार्म पहने हुए रीति आश्रम के बच्चों ने पंडाल में प्रवेश किया और फिर सही अर्थों में धूम धड़ाका शुरु हुआ। 



फिर समय आया केक काटे जाने का।   रीति आश्रम के सबसे छोटे 12-13 बच्चे केक काटने के लिये बुलाये गये जिन्होंने तालियों की गड़गड़ाहट के बीच में केक काटी।   अपर्णा नेगी के निर्देशन में बच्चों ने ग्रुप डांस की प्रस्तुति दे कर अपना और अतिथियों का मनोरंजन किया।   स्नेही शर्मा ने अपनी सुमधुर आवाज़ में ’दिल है छोटा सा, छोटी सी आशा"  गीत सुना कर सभी श्रोताओं का मन मोह लिया।

इस अवसर पर बोलते हुए श्री योगेश दहिया ने कहा कि AEWS की समाज के लिये अत्यन्त सार्थक गतिविधियों से जुड़ना उनके लिये भी आह्लादकारी और मन को हार्दिक सुकून देता है।   समाज के वंचित, उपेक्षित वर्ग के बच्चों पर इस प्रकार प्यार लुटाना, उनको समय देना, उनके साथ उनका जन्मदिन व अन्य त्योहार मनाना निश्चय ही उनको बेहतर इंसान बनायेगा क्योंकि बचपन में परिवार के प्यार से वंचित बच्चों का अक्सर गलत दिशा में मुड़ जाने का खतरा रहता है।   पर ये बच्चे AEWS टीम से प्यार और शिक्षा पाकर समाज के योग्य नागरिक बनेंगे, यह आशा सहज ही की जा सकती है।





अन्त में संस्था के सचिव सुशान्त सिंहल ने सभी अतिथियों का हार्दिक आभार व्यक्त किया।   इस आयोजन की सफलता में AEWS टीम के सभी सदस्यों - विशेषकर रश्मि टेरेंस, ओश्विन टेरेंस,  दिशा शुक्ला, नीना धींगड़ा, खेम चन्द सैनी, गगनदीप, अधिराज गुलाटी, राहुल गुनदेव, ज्योति, अपर्णा, शगुन खन्ना, जौनी वर्मा आदि का विशेष योगदान रहा। 
  


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

जो विशेष पसन्द किये गये !